Friday, December 4, 2020
Home शिक्षा Shoolini news : "लुकिंग एट द लॉकडाउन स्टोरीज़ बाय यंग एडल्ट्स"...

Shoolini news : “लुकिंग एट द लॉकडाउन स्टोरीज़ बाय यंग एडल्ट्स” किताब प्रकाशित

सोलन, : शूलिनी विश्वविद्यालय के बैलेट्रिसटिक  – लिटरेचर सोसाइटी ने कोविद -19 विषय पर  एक साहित्यिक संकलन लॉन्च किया। जिसका शीर्षक है, “लुकिंग एट द लॉकडाउन  स्टोरीज़ बाय यंग एडल्ट्स।” पुस्तक 15 से 21 वर्ष की आयु के बीच के युवा वयस्कों द्वारा लिखी गई लॉकडाउन कहानियों का संकलन है। यह किताब एक रचनात्मक लेखन प्रतियोगिता का परिणाम है, जो अंग्रेजी विभाग द्वारा आयोजित की गई थी,  जिनमें से 13  सबसे  बेहतर कहानियों को शॉर्टलिस्ट किया गया था।
यह किताब,  अंग्रेजी विभाग के सहायक  प्रोफेसर पूर्णिमा बाली, नीरज पिज़ार और साक्षी सुंदरम द्वारा प्रकाशन के लिए संकलित और संपादित की गई है ।

सत्र की अध्यक्षता चंडीगढ़ की प्रख्यात विद्वान और रचनात्मक लेखिका प्रो सुनीता पटनायक ने की। यूएई से अनन्या  और शिमला से अमानत ने दर्शकों के साथ अपने विजयी योगदान को साझा किया।

शूलिनी विश्वविद्यालय में अंग्रेजी  विभाग की हेड  प्रोफेसर मंजू जैदका ने रचनात्मक लेखन, उच्च और निम्न साहित्य, उद्देश्य के लिए साहित्य, और युवा वयस्कों और शिक्षकों पर लॉकडाउन के प्रभाव के बारे में चर्चा  की।

समीक्षक, कीर्ति सचदेवा, फैकल्टी, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय ने एंथोलॉजी पर अपने विचार साझा किए और बुक के लिए सभी 13 योगदानकर्ताओं को सकारात्मक, समावेशी और उत्थान के बारे में लिखने के लिए  बधाई दी। देश के विभिन्न हिस्सों से योगदानकर्ताओं आस्था भिक, अमानत चौहान, अनन्या खोसला, अनन्या महाजन, अपूर्व ममगेएन गुरलीन कौर ढिल्लन, गुरनूर कौर धालीवाल, इशानी घोष, नवकिरन  कौर गिल, नूर उज़्मा, प्रबनीत कौर संघा, स्मयरा मित्तन और
सुखमनप्रीत कौर गिल शामिल हैं।

प्रो सुनीता पटनायक ने इस छोटी सी उम्र में अपनी कहानियों में काल्पनिक, कैथार्सिस, रूपकों, प्रतीकात्मकता के उपयोग के लिए सभी योगदानकर्ताओं को बधाई दी और उनकी सहज कहानी कहने की शक्ति की भी सराहना की।

प्रो मंजू जैदका ने अगले बेलेस्ट्रिक फ्राइडे इवेंट के लिए घोषणा के साथ सत्र का समापन किया जो नोबेल पुरस्कार विजेता लुईस ग्लुक पर केंद्रित होगा।

Most Popular

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स इंडिया की बैठक शिमला में आयोजित ..किया कार्यकारणी का गठन

शिमलानेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स इंडिया की बैठक हिमाचल इकाई के अध्यक्ष रणेश राणा की अध्यक्षता में शिमला में आयोजित हुई। बैठक में...

मुकेश भले ही नेता प्रतिपक्ष पर उनका दल ही उन्हें अपना नेता मानने से कर रहा गुरेज : राकेश पठानिया

वन मंत्री राकेश पठानिया ने नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्रिहोत्री को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि हिमाचल सरकार तो उन्हें नेता प्रतिपक्ष...

विधानसभा सत्र के स्थगन पर पुनर्विचार करें सरकार : राकेश सिंघा

शिमला सीपीआईएम के वरिष्ठ नेता और विधायक राकेश सिंघा ने हिमाचल विधानसभा के शीतकालीन सत्र को टालने के...

अदरक की बंपर फसल पर भारी पड़ा लॉकडाउन, नहीं मिल रहे वाजिव दाम

शिलाई असम और बंगलूरू में लॉकडाउन के दौरान हुई अदरक की बंपर फसल से इस बार हिमाचली अदरक का निर्यात बांग्लादेश को...

Recent Comments