Wednesday, June 23, 2021
Homeसिरमौरहरियाणा पुलिस ने सुलझाई पांवटा के बुजुर्ग दंपत्ति के हत्या की गुत्थी,...

हरियाणा पुलिस ने सुलझाई पांवटा के बुजुर्ग दंपत्ति के हत्या की गुत्थी, डबल मर्डर मामले में दो गिरफ्तार

पांवटा साहिब  : जिला सिरमौर के पांवटा साहिब के दम्पति की मौत की गुत्थी हरियाणा पुलिस ने सुलझा दी है। इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। हरियाणा के यमुनानगर में स्टेट बैंक आफ इंडिया से सेवानिवृत्त 80 वर्षीय ऋषिपाल गोयल व उनकी पत्नी 75 वर्षीय स्नेहलता की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। बताते है दोनों का मर्डर उनके पड़ोस में रहने वाले दो युवकों ने की। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गोमती गली निवासी रजत व इंद्रा कालोनी निवासी हर्ष उर्फ लक्की को गिरफ्तार कर लिया। सीआईए वन के इंचार्ज राकेश मटोरिया ने बताया कि दोनों युवक बेरोजगार थे। उन्हें पता था कि ऋषिपाल व उनकी पत्नी दोनों घर पर अकेले रहते थे। इसलिए ही उन्होंने यहां लूटपाट की योजना बनाई थी। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि रजत व हर्ष दोनों बेरोजगार थे। उन्हें पैसों की जरूरत थी। लॉकडाउन की वजह से काम भी नहीं मिल रहा था। इनमें से रजत मृतक ऋषिपाल के पड़ोस में रहता था। उसे पता था कि ऋषिपाल बैंक से सेवानिवृत्त हो चुका था और ब्याज का भी काम करता था। घर में पत्नी के साथ अकेला रहता था। उसके पास काफी पैसा होगा। रजत ने ही अपने दोस्त हर्ष को इस बारे में बताया। जिस पर दोनों ने उनके मकान में चोरी करने की योजना बनाई थी। रात को दोनों छत के रास्ते के ऋषिपाल गोयल के मकान में घुसे। ऊपर का गेट खुला हुआ था। जब वह दोनों अंदर गए, तो स्नेहलता की आंख खुल गई। जिस पर उन्होंने रोड से स्नेहलता के सिर पर वार किया। वह नीचे गिर पड़ी। इसके बाद तकिये से मुंह दबाकर उसे मार डाला। इस दौरान ऋषिपाल की आंख खुली, तो आरोपियों ने उसके मुंह पर तकिया रखकर मार डाला। इसके बाद वहां से जेवरात लूटकर फरार हो गए थे। वारदात की जानकारी पाकर एसपी कमलदीप गोयल व अन्य पुलिस बल घटनास्थल पर पहुंचा था। मृतक दंपती घर पर अकेले रह रहे थे। उनके दो बेटे हिमाचल प्रदेश के पांवटा साहिब में स्टोन क्रशर चलाते हैं। एक बेटे की मौत हो चुकी थी। उसका परिवार सरस्वती कालोनी में रहता है। उस समय भी परिवार के लोगों ने जानकार पर ही वारदात किए जाने का शक जताया था। इसी दिशा में सीआईए वन ने तफ्तीश शुरू की थी। जांच में सीआईए वन से सब इंस्पेक्टर गुरमेज सिंह, सब इंस्पेक्टर जसविंद्र लालर, हेड कांस्टेबल कृष्ण कुमार, मनजीत सिंह, विनोद कुमार, रणधीर सिंह, विमल वा बृजपाल की टीम लगी हुई थी। 72 घंटे में इस वारदात का पर्दाफाश पुलिस ने कर दिया। आरोपी हर्ष मूल रूप से कांसापुर रोड का रहने वाला है। बेरोजगार होने की वजह से उसका पत्नी के साथ विवाद रहता था। तीन माह पहले उसका पैसों की तंगी के चलते पत्नी से बहस हो गई थी। जिस पर वह दंपती के पीछे वाले मकान में किराये पर रहने लगा था। यही पर उसकी दोस्ती रजत से हुई थी। दोनों बेरोजगार थे और खर्च चलाने के लिए उन्हें पैसे जरूरत थी। जिसके चलते दो बुजुर्गों की हत्या कर दी। 

Most Popular

Recent Comments