Friday, December 4, 2020
Home राजनीति राजन सुशांत मात्र सुर्खियां बटोरने का रच रहे प्रपंच..नई पार्टी की घोषणा...

राजन सुशांत मात्र सुर्खियां बटोरने का रच रहे प्रपंच..नई पार्टी की घोषणा मात्र स्टंट : विक्रम सिंह

उद्योग, परिवहन तथा श्रम एवं रोजगार मन्त्री बिक्रम सिंह ने समाचार-पत्रों में प्रकाशित पूर्व सांसद राजन सुशांत के उस बयान की कड़ी निन्दा की है, जिसमें उन्होंने भ्रामक और आधारहीन बातें कही हैं।
उद्योग मन्त्री ने कहा कि राजन सुशांत अति महत्त्वकांक्षी और अवसरवादी नेता हैं। वह जिस भी दल में रहे वहां उनको संतुष्टि प्राप्त नहीं हुई और उन्होंने कभी अपने दल के प्रति निष्ठा नहीं रखी। वह किसी भी व्यक्ति को अपने से बड़ा नहीं मानते और हमेशा अनर्गल बयानबाजी करते रहते हैं।
बिक्रम सिंह ने कहा कि राजन सुशांत ने हमेशा ही अपने निजी स्वार्थों और हितों को तरजीह दी है। उन्होंने सत्ता के लिए जनता के हितों को भी दाव पर लगाने में कभी संकोच नहीं किया, इस तरह वह अब पूरी तरह से बेनकाब हो चुके हैं। जिन भी लोगों ने राजन सुशांत का साथ दिया, वह कभी उनके साथ खड़े नहीं रहे।
उद्योग मन्त्री ने कहा कि राजन सुशांत मात्र सुर्खियां बटोरने के लिए नये-नये बहाने खोजते रहते हैं। उनके द्वारा नई पार्टी की घोषणा करना भी एक स्टंट मात्र है। प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह लगाने से पहले उन्हें यह स्पष्ट करना चाहिए कि प्रदेश व अपने क्षेत्र के लिए उनका क्या योगदान रहा है।
उन्होंने कहा कि वस्तुस्थिति यह है कि लगभग पिछले तीन वर्षों से विकास की रफ्तार और जनहितैषी योजनाओं के कारण प्रदेश सरकार लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय हुई है। सरकार की लोकप्रियता के कारण कुछ अवसरवादी नेता अपने आपको बहुत ही असुरक्षित महसूस कर रहे हैं, इसलिए समाचार-पत्रों के माध्यम से मनगढ़ंत बयानबाजी कर रहे हैं।
बिक्रम सिंह ने कहा कि राजन सुशांत को प्रदेश सरकार की कार्यशैली की सराहना करनी चाहिए, क्योंकि सरकार की कई योजनाएं देशभर में लोकप्रिय हुई है और अन्य राज्य, प्रदेश को माॅडल राज्य के रूप में देख रहे हैं। प्रदेश सरकार ने वृद्धजनों को बेहतर आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए बिना आय सीमा के सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्राप्त करने की आयुसीमा को 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष किया है, इससे लाखों वरिष्ठजनों को लाभ पहुंचा है।
प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन, जनमंच, हिमकेयर और हिमाचल गृहिणी सुविधा जैसी अनेक महत्वकांक्षी योजनाएं कार्यान्वित कर राज्य में नये अध्याय की शुरूआत की है। सरकार ने आखिरी पायदान पर खड़े व्यक्ति को इस विकास यात्रा में भागीदार बनाने का प्रयास किया है। आज पूरा प्रदेश स्वाभिमान के साथ स्वावलम्बन एवं समृद्धि की ओर अग्रसर हुआ है।
प्रदेश में औद्योगिक विकास को गति दी गई है। मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना, मुख्यमंत्री स्टार्टअप योजना सहित कई अन्य योजनाओं के सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। राज्य का समग्र विकास और प्रदेशवासियों का अटूट विश्वास प्रदेश सरकार के प्रयासों की कसौटी है, जिस पर सरकार खरी उतरी है। सरकार की सफलता से बौखलाकर अपना आधार खो रहे नेता अनाप-शनाप बयानबाजी कर रहे हैं।
बिक्रम सिंह ने राजन सुशांत को मर्यादाओं के अनुरूप व्यवहार करने की सलाह देते हुए कहा कि प्रदेश की जनता सच्चाई से भली-भांति परिचित है और वह ओछी राजनीति करने वालों पर विश्वास नहीं करती है। राजन सुशांत को भ्रामक और झूठे बयानों से परहेज करना चाहिए, क्योंकि इससे उन्हें कोई फायदा नहीं मिलने वाला है। प्रदेश की जनता ने भारी बहुमत से भाजपा को सत्ता दिलाई है और अवसरवादी नेताओं को पूरी तरह से नकार दिया है।

Most Popular

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स इंडिया की बैठक शिमला में आयोजित ..किया कार्यकारणी का गठन

शिमलानेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स इंडिया की बैठक हिमाचल इकाई के अध्यक्ष रणेश राणा की अध्यक्षता में शिमला में आयोजित हुई। बैठक में...

मुकेश भले ही नेता प्रतिपक्ष पर उनका दल ही उन्हें अपना नेता मानने से कर रहा गुरेज : राकेश पठानिया

वन मंत्री राकेश पठानिया ने नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्रिहोत्री को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि हिमाचल सरकार तो उन्हें नेता प्रतिपक्ष...

विधानसभा सत्र के स्थगन पर पुनर्विचार करें सरकार : राकेश सिंघा

शिमला सीपीआईएम के वरिष्ठ नेता और विधायक राकेश सिंघा ने हिमाचल विधानसभा के शीतकालीन सत्र को टालने के...

अदरक की बंपर फसल पर भारी पड़ा लॉकडाउन, नहीं मिल रहे वाजिव दाम

शिलाई असम और बंगलूरू में लॉकडाउन के दौरान हुई अदरक की बंपर फसल से इस बार हिमाचली अदरक का निर्यात बांग्लादेश को...

Recent Comments