Sunday, December 4, 2022
Homeमंडीपार्टी खिलाफत बिल्कुल नहीं होगी बर्दाश्त..दिखाएंगे बाहर का रास्ता

पार्टी खिलाफत बिल्कुल नहीं होगी बर्दाश्त..दिखाएंगे बाहर का रास्ता

मंडी; मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने नाचन विधानसभा क्षेत्र के चैलचौक में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि  भारतीय जनता पार्टी में अनुशासनहीनता बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पार्टी के खिलाफ चुनाव लड़ने वालों को बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा।  

 मुख्यमंत्री ने कहा कि अब सवाल ही पैदा नहीं होता कि लोग भाजपा-भाजपा भी करें और पार्टी के खिलाफ भी काम करें। उन्होंने मंच से कड़े शब्दों में कहा कि पार्टी प्रत्याशियों के खिलाफ चुनाव लड़ने वालों को अब पार्टी के अंदर कोई जगह नहीं देगी। इस दौरान सीएम जयराम ठाकुर ने जहां पार्टी प्रत्याशी विनोद कुमार के लिए विधानसभा चुनावों में मतदान करने की अपील की। वहीं अपने संबोधन में कांग्रेस पार्टी को भी आड़े हाथों लिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेसी नेता हर जगह यही कह रहे हैं कि जयराम ने कुछ नहीं किया है। लेकिन जयराम ने अब उनका पक्का इंतजाम कर दिया है। जयराम ठाकुर ने कहा कि उन्होंने पूरे प्रदेश में घूम कर देख लिया है और प्रदेश में एक बार फिर से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने जा रही है। सीएम ने कहा कि प्रदेश में अब वह दौर समाप्त हो गया है जब कांग्रेसी दोनों हाथों से लौटते थे। 

           सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि वे सीधे आदमी की तरह बात करते हैं, लेकिन विपक्ष के नेता बकवास करते रहते हैं। जिस कारण अब उनकी भी भाषा शैली बिगड़ रही है। जयराम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेसी नेता उन्हें गाजर समझे या मूली, इस बार बड़े लोग नहीं छोटे लोग रिवाज बदल कर दिखाएंगे। वहीं सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस के कुछ नेता अपने बुजुर्गों से भी बढ़कर बोलने लग पड़े हैं। उन्होंने उन नेताओं को अभी तक कोई जवाब नहीं दिया है। लेकिन अब जवाब देने की नौबत आएगी तो वह भी पीछे नहीं रहेंगे।

             जयराम ठाकुर ने अपने संबोधन के दौरान नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष चमड़ी उधेड़ने की बातें कर, प्रदेश सरकार पर कुछ भी ना करने के आरोप लगाते हैं। जबकि उनके ही विधानसभा क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी ने बल्क ड्रग फार्मा पार्क खोल कर दिया है। जयराम ने कहा कि यह वही लोग हैं जो विधानसभा के दौरान कांग्रेस कार्यकाल में हुए पांच कार्य नहीं को भी नहीं गिना पाए थे।

Most Popular

Recent Comments