Thursday, October 1, 2020
Home कांगड़ा कृर्षि उपज मंडी समिति कांगड़ा सचिव को धमकाने पर केस दर्ज

कृर्षि उपज मंडी समिति कांगड़ा सचिव को धमकाने पर केस दर्ज

सीएम हेल्प लाइन पर शिकायत के बाद पुलिस ने तीन लोगों पर शुरू की कार्रवाई

सीएम हेल्पलाइन में शिकायत के बाद कांगड़ा पुलिस हरकत में आई है। पुलिस ने जिला कांगड़ा कृषि मंडी समिति सचिव राज कुमार भारद्वाज की शिकायत पर उनके कार्यालय में तैनात चौंकीदार व उसकी पत्नी और एक अज्ञात व्यक्ति जो कर्मचारियों को धमका रहा है उसके विरुद्ध सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप लगते हुए मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। उल्लेखनीय है कि कांगड़ा पुलिस ने उक्त अधिकारी की लिखित शिकायत को नजरअंदाज कर पहले मामले को रफा-दफा कर दिया था। फिर न्याय के लिए जिला सचिव ने सीएम हेल्पलाइन में शिकायत डालकर न्याय मांगा था। डीएसपी सुनील राणा ने बताया कि जिला सचिव राज कुमार की शिकायत के आधार पर पुलिस ने कर्मचारी की पत्नी और एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। शीघ्र ही आरोपियों से पूछताछ की जाएगी। जिले के महत्त्वपूर्ण अधिकारी एवं उक्त विभाग के कर्मचारियों के साथ महिला द्वारा की गई प्रताड़ना का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। बताया जाता है कि कृषि विपणन बोर्ड के प्रबंध निदेशक के विदेश दौरे से लौटने के बाद कृषि उपज मंडी समिति जिला कांगड़ा में कार्यरत कर्मचारी पर भी गाज गिर सकती है। बताया जाता है कि समिति के सचिव राजकुमार भारद्वाज ने प्रताड़ना के आरोप उक्त चौकीदार व उसकी पत्नी पर प्रबंध निदेशक के समक्ष लगाए थे। उसी के आधार पर वरिष्ठ विपणन अधिकारी देवी चंद कश्यप को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया था। जांच अधिकारी देवी चंद कश्यप ने बताया कि सचिव द्वारा जो आरोप लगाए गए थे उस पर जांच की गई थी। उन्होंने बताया कि गवाहों के बयानों के आधार पर आरोप सही पाए गए है। जानकारी के अनुसार कृषि विपणन बोर्ड के प्रबंध निदेशक शनिवार को विदेश से वापस हिमाचल लौट आए हैं। समझा जा रहा है कि जांच अधिकारी की रिपोर्ट के बाद कर्मचारी के खिलाफ एक्शन लिया जा सकता है। कृषि उपज मंडी समिति के सचिव राजकुमार भारद्वाज ने बताया कि उक्त कर्मचारी ने सरकारी संपत्ति पर भी कब्जा किया हुआ है। किसान विश्राम गृह के इस कमरे को समिति द्वारा खाली करवाने का प्रयास किया गया तो उक्त कर्मचारी व उसकी पत्नी ने सोशल मीडिया पर झूठे आरोप लगा दिए। सचिव राजकुमार भारद्वाज का कहना है कि विभागीय कार्रवाई प्रबंध निदेशक के अधिकार क्षेत्र में है।

वही इस बारे में कृर्षि विपणन बोर्ड डायरेक्टर संजय उपाध्याय का कहना है कि सचिव राजकुमार एक ईमानदार व बेदाग छवि के अधिकारी है तथा उन्हें धमकाने व परेशान करने वाले कर्मचारी को तुरन्त विभाग बर्खास्त करे।

Most Popular

मुख्यमंत्री ने अटल टनल रोहतांग के लोकार्पण समारोह की तैयारियों की समीक्षा की

रेणुका गौतम मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने अटल टनल रोहतांग के लोकार्पण समारोह के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के...

बाबरी विध्वंस मामले में विशेष अदालत का निर्णय स्वागत योग्य सत्य की जीत हुई

शिमला : भारतीय जनता पार्टी प्रदेश प्रवक्ता शशि दत्त ने जारी बयान में कहा है कि विशेष अदालत द्वारा भारतीय जनता...

पुराने सिक्कों को बदलने का लालच देकर लगाई लाखों की चपत

शिमला : राजधानी के साथ लगते जुन्गा में पुराने सिक्के व करंसी खरीदने का झांसा देकर एक व्यक्ति...

फेस मास्क न पहनने पर शिमला पुलिस हुई सख्त ..1565 लोगों के कटे चालान

ड्रोन कैमरे की मदद से पुलिस फेस मास्क न पहनने वालो पर रखेगी नजर शिमला : शिमला में आजकल...

Recent Comments