Thursday, December 3, 2020
Home कांगड़ा कर्फ्यू के दौरान भागसुनाथ पिकनिक करने गए युवक की डूब कर मौत

कर्फ्यू के दौरान भागसुनाथ पिकनिक करने गए युवक की डूब कर मौत

धर्मशाला. कोरोना के चलते लॉकडाउन और कर्फ्यू के बीच भी लोग गैरजरूरी कामों और मनोरंजन के लिए घरों से निकल रहा है. ऐसे ही एक मामले में पिकनिक मनाना एक युवक को भारी पड़ गया और उसने अपनी जान गंवानी पड़ी. मामला हिमाचल के कांगड़ा जिले का है. पुलिसने युवक के चार साथियों पर मामला दर्ज किया है.

पहाड़ी पर पांच दोस्तों के साथ गए थे
जानकारी के अनुसार, घटना मंगलवार की है. पर्यटन नगरी धर्मशाला के मैक्लोडगंज के भागसुनाग वॉटरफॉल के साथ लगती पहाडी पर पिकनिक मनाने गए पांच दोस्तों में से वापस आते हुए एक युवक का भागसू वाटर फॉल के पास पैर फिसलने के कारण युवक गहरे पानी में जा गिरा. इस कारण डूबने से उसकी मौत हो गई. इस मामले की पुष्टि करते हुए मैक्लोडगंज पुलिस थाना के प्रभारी नीरज राणा ने बताया कि मृतक युवक की पहचान रिंकु कुमार आयु 29 वर्ष निवासी भागसुनाग के रूप में हुई है.

पुलिस थाना के प्रभारी नीरज राणा ने बताया कि रिंकु कुमार अपने चार अन्य दोस्तों अविनाश, बंटी, अजीत और दीपक के साथ पिकनिक मनाने के लिए भागसुनाग के ऊपर लेंटा पहाडी पर गए हुए थे. उन सभी ने शराब का सेवन भी किया हुआ था. मंगलवार को रिंकु कुमार का भागसुनाग वाटरफॉल के पास पांव फिसल गया और वह झरने के नीचे आ गिरा.


नीरज ने बताया कि स्थानीय तिब्बती गोताखोरों ने कड़ी मशक्कत के बाद युवक के शव को पानी से बाहर निकाला. पुलिस थाना के प्रभारी नीरज राणा ने बताया कि पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्स्टम के लिए धर्मशाला अस्पताल भेज दिया है तथा अन्य चारों युवकों के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए घटना की जांच शुरू कर दी है.

Most Popular

मुकेश भले ही नेता प्रतिपक्ष पर उनका दल ही उन्हें अपना नेता मानने से कर रहा गुरेज : राकेश पठानिया

वन मंत्री राकेश पठानिया ने नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्रिहोत्री को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि हिमाचल सरकार तो उन्हें नेता प्रतिपक्ष...

विधानसभा सत्र के स्थगन पर पुनर्विचार करें सरकार : राकेश सिंघा

शिमला सीपीआईएम के वरिष्ठ नेता और विधायक राकेश सिंघा ने हिमाचल विधानसभा के शीतकालीन सत्र को टालने के...

अदरक की बंपर फसल पर भारी पड़ा लॉकडाउन, नहीं मिल रहे वाजिव दाम

शिलाई असम और बंगलूरू में लॉकडाउन के दौरान हुई अदरक की बंपर फसल से इस बार हिमाचली अदरक का निर्यात बांग्लादेश को...

हिमाचल प्रदेश में टेट की सात साल की अनिवार्यताहटेगी या नहीं मंत्रिमंडल लेगा फैसला

  शिमला हिमाचल में हर साल बीएड और जेबीटी करने वालों को जल्द ही बड़ी राहत मिलने वाली है।...

Recent Comments