Friday, May 14, 2021
Homeस्वास्थ्यप्रदेश में 83 हजार 679 लोग हुए कोरोना महामारी से ठीक, रिकवरी...

प्रदेश में 83 हजार 679 लोग हुए कोरोना महामारी से ठीक, रिकवरी दर 78 प्रतिशत


प्रदेश में 28 स्वास्थ्य संस्थानों को समर्पित कोविड अस्पताल बनाया गया
प्रदेश में कोरोना महामारी से संक्रमित लोगांे में से 83 हजार 679 लोग अब पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। यह राज्य सरकार द्वारा स्वास्थ्य संस्थानों में उपलब्ध करवाई जा रही बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं, उचित देखभाल और उपचार से सम्भव हो पाया है। राज्य में कोरोना महामारी से ठीक होने वाले मरीजों की रिकवरी दर लगभग 78 प्रतिशत है।
राज्य में कोरोना मरीजों के अब तक 107121 मामले सामने आए हैं जिनमें से 83679 मरीज ठीक हो कर घर जा चुके हैं। राज्य सरकार द्वारा कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में व्यापक स्तर पर कोरोना परीक्षण अभियान चलाया जा रहा है। कोविड की दूसरी लहर में मामले बढ़ने के कारण सरकार ने परीक्षण और टीकाकरण अभियान को भी बढ़ाया है। प्रदेश के चिकित्सा महाविद्यालयों सहित अनेक स्वास्थ्य संस्थानों में कोविड महामारी के परीक्षण की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है।
अब तक प्रदेश में 15 लाख 39 हजार 545 लोगों का कोविड परीक्षण किया जा चुका है जिनमें 14 लाख 24 हजार 035 लोगों का कोरोना परीक्षण नेगेटिव पाया गया है।
प्रदेश के विभिन्न जिलों में कोरोना महामारी को मात देकर जिदंगी की जंग जीतने वाले लोगों में कांगड़ा जिला प्रदेश भर में सबसे अग्रणी बना हुआ है जबकि दूसरे स्थान पर जिला शिमला है। कांगड़ा जिला में अब तक सबसे ज्यादा 13766 कोरोना मरीज ठीक हुए हैं। शिमला जिला में ठीक होने वाले कोरोना मरीजों की संख्या 13026 है। इसके अलावा जिला बिलासपुर में 4473, जिला चंबा में 3808, जिला हमीरपुर में 5310, जिला किन्नौर में 1571, जिला कुल्लू में 5275, जिला लाहौल स्पिति में 1682, जिला मंडी में 12632, जिला सिरमौर में 5655, जिला सोलन में 10636 और जिला ऊना में 5845 लोग कोरोना महामारी से ठीक हुए हैं।
कोरोना मरीजों के उपचार के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के सभी मेडिकल काॅलेजों सहित कुल 28 स्वास्थ्य संस्थानों को समर्पित कोविड अस्पताल बनाया गया है। इनमें नागरिक अस्पताल घुमारवीं, जिला आयुर्वेदिक अस्पताल बिलासपुर, बिलासपुर काॅलेज का छात्रावास, नागरिक अस्पताल डलहौजी, मेडिकल काॅलेज चम्बा, आयुर्वेदिक अस्पताल हमीरपुर, मेडिकल काॅलेज हमीरपुर, क्षेत्रीय अस्पताल धर्मशाला, मेडिकल काॅलेज टांडा, जिला आयुर्वेदिक अस्पताल रिकांगपिओ, क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू, मेडिकल काॅलेज नेरचैक, नागरिक अस्पताल रत्ती, बीबीएमबी अस्पताल सुन्दरनगर, एमसीएच विंग सुन्दरनगर, क्षेत्रीय अस्पताल मंडी, दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल शिमला, नागरिक अस्पताल रोहड़ू, एमजीएमएससी रामपुर, मेडिकल काॅलेज शिमला, क्षेत्रीय आयुर्वेदिक अस्पताल छोटा शिमला, नागरिक अस्पताल सराहन, मेडिकल काॅलेज नाहन, एमएमएमसीएच कुमारहट्टी, ईएसआई अस्पताल काठा, मेकशिफ्ट अस्पताल नालागढ़, नागरिक अस्पताल हरोली, मेकशिफ्ट अस्पताल पलकवाह शामिल है। राज्य के इन सभी समर्पित कोविड अस्पतालों में 3354 बिस्तर उपलब्ध हैं और प्रदेश सरकार बिस्तरों की क्षमता बढ़ाने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है।

Most Popular

Recent Comments