Friday, December 4, 2020
Home राजनीति हलके में नहीं लिया जा सकता शांता के बयान को , सार्वजनिक...

हलके में नहीं लिया जा सकता शांता के बयान को , सार्वजनिक हुई भाजपा की अंतर्कलह : राठौर


शिमला कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा है कि भाजपा के भीतर सत्ता संघर्ष को लेकर आंतरिक कलह चली हुई है। कांग्रेस पर कोई भी विपरीत टिप्पणी करने से पूर्व भाजपा को पहले अपने घर की सुध ले लेनी चाहिए। राठौर ने कहा कि भाजपा के वरिष्ठ नेता शांता कुमार का यह बयान कि प्रदेश भाजपा में राजनीति प्रदूषित होती जा रही है, अपने आप में एक बहुत बड़ा संदेश है। उनका यह कथन पार्टी के अंदर नेताओं में बढ़ते असंतोष को स्पष्ट इंगित करता है। गुरुवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में कुलदीप राठौर ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर हो या प्रदेश स्तर पर आज भाजपा ने अपने वरिष्ठ नेताओं को अपनी राजनीति से दरकिनार कर दिया है। प्रदेश में शांता कुमार भी इसी परिणीति का शिकार हुए हैं। उनका यह आरोप कि उन्हें अपने ही लोगों ने राजनीतिक षड्यंत्र का शिकार बनाया, पार्टी की पूरी पोल खोलता है। राठौर ने कहा कि शांता कुमार के बयान को हल्के में नहीं लिया जा सकता। आज प्रदेश में भाजपा के कुछ मंत्री बेलगाम हो गए हैं। सरकार और ब्यूरोक्रेसी के बीच टकराव की स्थिति है। राठौर ने केंद्र सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि वह देश में किसानों की आवाज दबाने का पूरा प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों की लड़ाई तब तक जारी रखेगी, जब तक सरकार अपने इस काले कानून को वापस नहीं ले लेती। राठौर ने प्रदेश विश्वविद्यालय में चल रहे छात्र आंदोलन पर कहा कि छात्रों के साथ बातचीत की जानी चाहिए व उनकी मांगों को माना जाना चाहिए। उन्होंने कुलपति पर मनमानी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह विश्वविद्यालय में तानाशाही कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कुलपति को अपना अहम छोड़कर संघर्षरत छात्रों की सुनकर उनका निराकरण करना चाहिए। उन्होंने छात्रों की मांगों पर कांग्रेस पार्टी के समर्थन की बात भी कही। 

Most Popular

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स इंडिया की बैठक शिमला में आयोजित ..किया कार्यकारणी का गठन

शिमलानेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स इंडिया की बैठक हिमाचल इकाई के अध्यक्ष रणेश राणा की अध्यक्षता में शिमला में आयोजित हुई। बैठक में...

मुकेश भले ही नेता प्रतिपक्ष पर उनका दल ही उन्हें अपना नेता मानने से कर रहा गुरेज : राकेश पठानिया

वन मंत्री राकेश पठानिया ने नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्रिहोत्री को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि हिमाचल सरकार तो उन्हें नेता प्रतिपक्ष...

विधानसभा सत्र के स्थगन पर पुनर्विचार करें सरकार : राकेश सिंघा

शिमला सीपीआईएम के वरिष्ठ नेता और विधायक राकेश सिंघा ने हिमाचल विधानसभा के शीतकालीन सत्र को टालने के...

अदरक की बंपर फसल पर भारी पड़ा लॉकडाउन, नहीं मिल रहे वाजिव दाम

शिलाई असम और बंगलूरू में लॉकडाउन के दौरान हुई अदरक की बंपर फसल से इस बार हिमाचली अदरक का निर्यात बांग्लादेश को...

Recent Comments