Thursday, February 25, 2021
Home हमीरपुर हिमाचल के युवाओं का इंजीनियरिंग से मोह भंग, पॉलीटेक्निकल कॉलेजों में नहीं...

हिमाचल के युवाओं का इंजीनियरिंग से मोह भंग, पॉलीटेक्निकल कॉलेजों में नहीं भरी 4027 सीटें


हमीरपुर हिमाचल के सरकारी और निजी पॉलीटेक्निकल कॉलेजों में पहले राउंड की काउंसलिंग के बाद तीन वर्षीय इंजीनियरिंग डिप्लोमा कोर्स के लिए 4027 के करीब विभिन्न विषयों की सीटें खाली रह गई हैं। इनमें से सरकारी पॉलीटेक्निकल संस्थानों में 2040 तो प्राइवेट संस्थानों में 1987 सीटें रिक्त हैं। अब इन सीटों को भरने के लिए तकनीकी शिक्षा बोर्ड दूसरे राउंड की काउंसलिंग करेगा। संस्थानों में पैट और लीट की सीटों को भरने के लिए मेरिट आधार पर काउंसलिंग हुई। पहले चरण की काउंसलिंग के बाद प्रदेश के 15 पॉलीटेक्निकल संस्थानों में 2040 सीटें विभिन्न विषयों की खाली रह गई हैं। सूबे में चल रहे निजी पॉलीटेक्निकल संस्थानों में भी 1987 सीटें अभी तक रिक्त चल रही हैं। इनमें सरकारी पॉलीटेक्निकल में टीएफडब्ल्यू की 95, जबकि निजी संस्थानों की 88 सीटें भी शामिल हैं। सुंदरनगर में 182, हमीरपुर में 162, रोहड़ू में 119, कंडाघाट में 131, कांगड़ा में 211, अंबोटा में 171, चंबा में 173, बनीखेत में 60, तलवाड़ा में 71, शिमला में 157, किन्नौर में 94, पांवटा साहिब में 256, कुल्लू में 154, बिलासपुर में 73 और लाहौल-स्पीति में 26 सीटें अभी भी रिक्त हैं।  पहले चरण की काउंसलिंग के बाद कई पॉलीटेक्निकल संस्थानों में सीटें खाली रह गई हैं। सीटों को भरने के लिए जल्द ही दूसरे चरण की काउंसलिंग करवाई जाएगी।

सुनील वर्मा, सचिव, तकनीकी शिक्षा बोर्ड धर्मशाला

Most Popular

Recent Comments