Monday, March 4, 2024
Homeमौसमहिमाचल ...बर्फवारी से 431 सड़कें और 100 रूट प्रभावित

हिमाचल …बर्फवारी से 431 सड़कें और 100 रूट प्रभावित

मौसम

भारी बर्फवारी के बाद प्रदेश में 19 दिसम्बर तक मौसम साफ 20 से बर्फवारी की संभावना

शिमला : हिमाचल में पिछले दिनों से हो रही बर्फबारी से छह नेशनल हाईवे सहित 431 सड़कों पर वाहनो की रफ़्तार थम गई वहीं एचआरटीसी के 100 रूट प्रभावित हो गए । राज्य में सबसे अधिक 234 सडक़ें शिमला जोन में बंद हैं। इनमें रामपुर सर्कल की 120 रोहड़ू सर्कल की 87 और शिमला सर्कल की 19 सडक़ें शामिल हैं। कांगड़ा जोन में 137 सडक़ें अवरूद्व हैं। जिनमें अकेले डल्हौजी सर्कल की 134 सडक़ों पर वाहनों की आवाजाही ठप है। इसी तरह मंडी सर्कल में 54 सडक़ें बाधित रहीं जिनमें कुल्लू सर्कल की 34 और मंडी सर्कल की 20 सडक़ें हैं। लोकनिर्मान विभाग ने अवरूद्व सडक़ों की बहाली के लिए 285 से अधिक मशीनरी तैनात कर रखी है और इन सडक़ों को बहाल करने में कई दिन लग सकते हैं।

बता दे की भारी बर्फबारी से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। लाहुल.स्पीति किन्नौर शिमला व चंबा के डलहोजी कुल्लू सिरमौर व मंडी जिला के जंजैहली समेत कई स्थानों पर भारी बर्फबारी हुई है। शनिवार को इन इलाकों में अनेक सडक़ों के बन्द होने से परिवहन व्यवस्था बुरी तरह चरमरा गई तथा कई इलाकों का जिला मुख्यालयों से संपर्क कटा हुआ है। बाहरी राज्यों से शिमला घूमने आए कई पर्यटक शिमला से सटे पर्यटक स्थलों में फंस गए हैं। बर्फबारी की वजह से शिमला शहर में दोपहर तक वाहनों की रफतार ठप रही वहीं अप्पर शिमला के अनेक क्षेत्र पिछले दो दिनों से राजधानी से कटे हुए हैं। जिले में हालात सामान्य बनाने के लिए प्रशासन भरसक प्रयास कर रहा है।

शिमला लाहौल-स्पीति और किन्नौर के पर्वतीय इलाकों में इस बर्फबारी से बिजली पानी व संचार जैसी मूलभूत सुविधाएं ठप होने से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। अधिकतर इलाकों में पिछली रात भर बिजली गुल रही। शिमला शहर के मुख्य मार्गों पर यातायात बहाल कर दिया गया हैl लेकिन अप्पर शिमला को जान वाले सभी अभी अवरूद्व हैं। जिले में दूसरे दिन एचआरटीसी के 100 से अधिक बस रूट प्रभावित रहे। बर्फबारी के बाद से शिमला मंडी और कांगड़ा जोन की सडक़ें सबसे ज्यादा प्रभावित हुई हैं। राजधानी शिमला को ऊपरी शिमला से जोडऩे वाला राष्ट्रीय राजमार्ग 05 शनिवार को भी बहाल नहीं हो पाया। रामपुर से जाने वाली बसों को वाया बंसतपुर से शिमला भेजा जा रहा है। कुफरी और ढली के बीच सैंकड़ों वाहन बर्फ में फंसे हुए हैं। बर्फबारी से शिमला जिला में एचआरटीसी की बसों सहित कई वाहन फंस गए हैं। राहत की बात यह है कि आगामी दिनो में मौसम के साफ रहने का अनुमान है जिससे राहत कार्य में तेजी आएगी।

मौसम विभाग के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा है कि आगामी 24 घंटों के दौरान राज्य के पर्वतीय इलाकों में कुछ स्थानों पर हल्की बर्फ गिर सकती है। 16 दिसम्बर से 19दिसम्बर समूचे प्रदेश में मौसम साफ रहेगा। 20 दिसम्बर को फिर हिमपात की संभावना है

Most Popular