Friday, June 21, 2024
Homeहमीरपुरजेसीसी की बैठक न बुलाई तो प्रदेश के कर्मचारी 12 दिसम्बर को...

जेसीसी की बैठक न बुलाई तो प्रदेश के कर्मचारी 12 दिसम्बर को करेंगे विधानसभा का घेराव : एनआर ठाकुर

पांच साल कांग्रेस ने तो दो साल से भाजपा सरकार कर रही कर्मचारियों की उपेक्षा 

रजनीश शर्मा 
हमीरपुर
: यदि शीघ्र प्रदेश सरकार जेसीसी की बैठक नहीं बुलाती है तो अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ  12 दिसम्बर को धर्मशाला में विधानसभा का घेराव करेगा। यह बात हमीरपुर ज़िला के भीटा में बुधवार को आयोजित हिमाचल प्रदेश  एन॰जी॰ओ॰ महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष एन॰आर॰  ठाकुर ने कही । अराजपत्रित कर्मचारी संघ भोटा में बुधवार को अपना 54 वाँ स्थापना दिवस मना रहा था। इस कार्यक्रम में प्रदेश भर से क़रीब 400 से अधिक कर्मचारी नेताओं ने भाग लिया । इस मौक़े पर राष्ट्रीय कर्मचारी महासंघ के अखिल भारतीय अध्यक्ष विपन कुमार डोगरा और बीएमएस के प्रदेश महामंत्री मंगत राम नेगी ने अपने विचारों से कर्मचारियों में जोश भरा।महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष एन॰आर॰ ठाकुर ने कहा कि पाँच साल कांग्रेस सरकार और दो साल से भाजपा सरकार कर्मचारियों की उपेक्षा कर रही है।  महासंघ द्वारा सौंपे गये 56 सूत्रीय माँगपत्र को सरकार ने गम्भीरता से नहीं लिया है। उन्होंने कहा कि सरकार कर्मचारियों को संघर्ष की राह पर चलने के लिए मजबूर कर रही है। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर कर्मचारी नेताओं को सरकार 12 दिसम्बर से पूर्व वार्ता के लिए नहीं बुलाती तो 12 दिसम्बर को कर्मचारी धर्मशाला में विधानसभा का घेराव करेंगे।उन्होंने कहा कि कर्मचारी सरकार को सहयोग देना चाहते हैं लेकिन सरकार कर्मचारियों 56 सूत्रीय माँगों को लेकर चुप है। उन्होंने कहा कि जिस कर्मचारी नेता के साथ कर्मचारियों का बहुमत है एन॰जी॰ओ॰ के उस महासंघ को मान्यता देकर तुरंत वार्ता के लिए बुलाया जाए । उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस सरकार को कर्मचारियों की उपेक्षा करना महँगा रहा , अगर भाजपा सरकार भी उपेक्षा करती रहेगी तो कर्मचारी संघर्ष की राह अपनायेंगे।

Most Popular