Thursday, May 30, 2024
Homeशिमलासीबीआई ने छात्रवृत्ति घोटाले में तीन को किया गिरफ्तार

सीबीआई ने छात्रवृत्ति घोटाले में तीन को किया गिरफ्तार

हिमाचल प्रदेश में 265 करोड़ के छात्रवृत्ति घोटाले में सीबीआई ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। सीबीआई ने जिन लोगो को गिरफ्तार किया है उनमें उच्च शिक्षा विभाग के तत्कालीन सुपरिटेंडेंट अरविंद राजटा, निजी शिक्षण संस्थान का वाइस चेयरमेन हितेश गांधी और सेंट्रल बैंक का तत्कालीन हेड कैशियर एसपी सिंह शामिल है। ये गिरफ्तारियां सीबीआई द्वारा शुक्रवार को की गईं।

छात्रवृत्ति घोटाले में ये पहली गिरफ्तारियां हैं। सीबीआई के एक प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों को अब न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा।
बता दे कि छात्रवृत्ति घोटाले में सीबीआई की शिमला शाखा में भारतीय दंड संहिता की धारा 409, 419, 465, 466 और 471 में एफआईआर दर्ज है। मामले के अनुसार वर्ष 2013 से 2016 के बीच 11वीं और 12वीं कक्षाओं के अनुसूचित जाति के स्टूडेंट्स को दी जाने वाली स्कॉलरशिप में करोड़ों की रकम का गबन किया गया है। सीबीआई जांच में निजी संस्थानों के कर्ताधर्ताओं, शिक्षा विभाग और राष्ट्रीयकृत बैंकों के अधिकारियों व कर्मचारियों ने आपसी मिलीभगत सामने आई है। छात्रों की छात्रवृति हड़पने के लिए विभिन्न स्तरों पर अनियमिताएं बरती गई। छात्रों द्वारा आवेदन पत्रों में जिन बैंक खातों का उल्लेख किया था तथा उनके स्थान पर दूसरे बैंक खातों में छात्रवृति जमा की गई। साल 2018 में हिमाचल सरकार ने मामले की जांच सीबीआई को सौंपी थी।

Most Popular