Thursday, May 30, 2024
Homeकुल्लू45 दिनों के घाटी की परिक्रमा कर देवता नागराज लोटे अपने देवालय

45 दिनों के घाटी की परिक्रमा कर देवता नागराज लोटे अपने देवालय

रेणुका गौतम
बारी बर्फबारी के दौरान भी देवते के कारकुनों के नहीं रुके कदम

कुल्लू : जनजातीय जिला लाहौल स्पीति के चन्द्रा घाटी के गांव खंगसर के देवता नागराज 22 अक्टूबर से घाटी के परिक्रमा पर निकले थे इस दौरान वह समस्त चंद्र घाटी के घर घर जाकर लोगों के दुख तकलीफों को दूर कर रहे थे गांव खंगसर के अनिल शाशनी ने बताया कि देवता नागराज अपने कारकूनों के साथ घाटी के परिक्रमा पर 22 अक्टूबर से निकले थे जिसमें घाटी के कई जगहों पर देर रात जागरा भी रखा गया और जगह-जगह देवता नागराज का भव्य स्वागत व अभिनंदन भी विभिन्न महिला मंडल व युवक मंडलों द्वारा किया गया ।अपने 45 दिनों के परिक्रमा के बाद लोगों के दुख तकलीफ व कष्ट को हर कर 4 दिसंबर को देवता नागराज अपने देवालय वापस लौट गए हैं और गांव के महिला मंडल व युवक मंडल द्वारा देवते के सम्मान में एक जागरा का आयोजन भी किया गया व देवता नागराज को पारंपरिक वेशभूषाओं के साथ पारंपरिक विद्वानों के अनुसार उनके देवालय तक पहुंचाया गया जहां देवता नागराज अपने देवालय मैं प्रवास करेंगे और अगले साल फिर से घाटी की परिक्रमा कर लोगों के दुख तकलीफों को दूर करेंगे ।

Most Popular