Sunday, June 16, 2024
Homeराजनीतिइन्वेस्टर मीट में गुजार दिए 2 साल, एक धेले का काम नहीं...

इन्वेस्टर मीट में गुजार दिए 2 साल, एक धेले का काम नहीं कर पाई प्रदेश सरकार : राणा

कहा : सरकार बताए कि कितने एम.ओ.यू. साइन हुए व किस-किस क्षेत्र में होगा निवेश

हमीरपुर: सुजानपुर के विधायक श्री राजेंद्र राणा जी ने इन्वेस्टर मीट पर वाहवाही लूट रही प्रदेश सरकार से पूछा है कि 2 साल से एक धेले का काम नहीं करने वाली सरकार बताए कि इन्वेस्टर मीट में कितने एम.ओ.यू. साइन हुए और किस-किस क्षेत्र में निवेश किया जा रहा है। जारी प्रेस ब्यान में राजेंद्र राणा ने कहा कि सत्ता में आने के बाद 2 साल से इस इन्वेस्टर का ढोल पीट रही सरकार बताए कि कितना निवेश धरातल पर होगा और सरकारी खजाने से इस इवेन्ट पर कितना खर्च किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि अब तक केंद्र व प्रदेश सरकार की बातें कोरे ढकोसले ही साबित हुए हैं। नई रेल लाइन बिछाने या फिर पुरानी रेल लाइनों के विस्तारीकरण से केंद्र सरकार ने हाथ पीछे खींच लिए हैं तो 69 एन.एच. पर प्रदेश को पीठ दिखा दी है। केंद्र सरकार प्रदेश की कोई मदद नहीं कर रही है और अब तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी स्पष्ट कर दिया है कि प्रदेश को अपने संसाधनों से ही काम चलाना होगा। उन्होंने कहा कि जनता का अब सरकार से विश्वास उठ रहा है। इन्वेस्टर मीट व बड़े नेताओं को खुश करने के लिए सरकार ने इस इवेन्ट पर करोड़ों रुपए फूंक दिए जबकि यह पैसा जनता का था। उन्होंने कहा कि हिमाचल से गहरा नाता होने का ढोंग बताकर केंद्रीय मंत्री भी लच्छेदार भाषण देकर हाथ झाडक़र चले जाते हैं जबकि प्रदेश के लिए फूटी कोडी तक देकर नहीं जाते हैं। उन्होंने प्रदेश सरकार को याद दिलाया कि भाषणों से न तो पेट भरता है और न ही विकास होता है। उन्होंने कहा कि सरकार का 2 साल के विकास कार्यों का रिपोर्ट कार्ड शून्य है।उन्होंने कहा कि सरकार का आधे से थोड़ा ज्यादा समय रह गया है जिस पर सरकार अपने विकास कार्यों पर श्वेत पत्र जारी करे।उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी इन्वेस्टर मीट के खिलाफ नहीं है लेकिन प्रदेश के संसाधनों को बेचने नहीं दिया जाएगा।राजेंद्र राणा ने कहा कि सरकार अपने बही-खातों को चुस्त-दुरूस्त कर ले, क्योंकि कांग्रेस पार्टी विपक्ष की सजग भूमिका निभा रही है तथा इन्वेस्टर मीट सहित सरकार से विकास कार्यों का हिसाब लेकर रहेगी।

Most Popular