Monday, February 26, 2024
Homeकुल्लूसैलानियों से गुलजार हुआ रोहतांग

सैलानियों से गुलजार हुआ रोहतांग


रोहतांग दर्रे में सैलानियो के पहुंचते ही बर्फ़ीली वादियों में सैलानियों से रौनक छा गई है। हालांकि आज रोहतांग तक वाहन नहीं पहुंच पाए। लेकिन सैलानियों ने तीन किलोमीटर पैदल सफर कर रोहतांग दर्रे में दस्तक दी। राहनीनाला से लेकर रोहतांग दर्रे तक सड़क किनारे खड़ी बर्फ की ऊंची दीवार सैलानियों का मन मोह रही हैं। देश व दुनिया के सैलानियों में अपनी पहचान बनाने वाला रोहतांग दर्रा सैलानियों से चहक उठा है। छह महीने बाद एक बार फिर रोहतांग दर्रे में सैलानियों से रौनक लौट आई है। शनिवार सुबह रोहतांग दर्रे में सैलानियों का काफिला पहुंचा। पार्किंग की व्यवस्था न होने के कारण सैलानियों सहित वाहन चालकों को ट्रैफ़िक जाम का सामना करना पड़ा। हालांकि प्रशासन ने ट्रैफिक जाम को देखते हुए मढ़ी से दो चरणों में सैलानियों को रोहतांग भेजा। लेकिन चुमक मोड़ से राहनीनाला पार तक वाहनों की दो किलोमीटर लंबी लाइन लगी रही।

रोहतांग की वादियों में छाई रौनक

रोहतांग दर्रे में सैलानियो के पहुंचते ही बर्फ़ीली वादियों में सैलानियों से रौनक छा गई है। हालांकि आज रोहतांग तक वाहन नहीं पहुंच पाए। लेकिन सैलानियों ने तीन किलोमीटर पैदल सफर कर रोहतांग दर्रे में दस्तक दी। राहनीनाला से लेकर रोहतांग दर्रे तक सड़क किनारे खड़ी बर्फ की ऊंची दीवार सैलानियों का मन मोह रही हैं।

फोटोग्राफी का भी ले सकते हैं आनंद

एनजीटी के आदेशानुसार रोहतांग दर्रे में सभी बर्फीली खेलों पर प्रतिबंध है। सैलानी कुल्‍लवी परिधानों में फोटोग्राफी का ही आनंद उठा सकते हैं। बर्फ की सभी खेल का आनंद सैलानी मात्र मढ़ी, ब्यासनाला व सागु फाल में ही उठा सकते हैं। रोहतांग दर्रे की खूबसूरती निहारने के साथ साथ सैलानी बर्फ से ढकी लाहुल की पहाड़ियों में फोटोग्राफी का आनंद ले सकते हैं।

रोहतांग में खली पार्किंग की कमी

बर्फ से लदे रोहतांग दर्रे को देख सैलानी खासे उत्साहित हो रहे हैं लेकिन ट्रैफ़िक जाम उनकी राह में रोड़ा बना हुआ है। बीआरओ ने दो सप्ताह पहले ही रोहतांग दर्रा बहाल कर लिया था। लेकिन प्रशासन अभी तक रोहतांग दर्रे में उचित व्यवस्था नहीं कर पाया है।

दो चरणों में भेजे जा रहे पर्यटक

एसडीएम मनाली अश्वनी कुमार ने कहा सैलानियों को आज रोहतांग के लिए दो चरणों मे भेजा गया। उन्होंने कहा पार्किंग की यथासभंव व्यवस्था की गई है। एसडीएम ने सैलानियों से आग्रह किया कि वे प्रशासन द्वारा निर्धारित समय सारणी अनुसार ही रोहतांग का रुख करें।

सैलानियों की बढ़ी आमद
प्रशासन द्वारा सैलानियों के लिए रोहतांग दर्रा बहाल करते ही मनाली में इन्क्वायरी बढ़ी है। मई महीना फीका रहा है। लेकिन जून में रोहतांग दर्रे के बहाल होने से सैलानियों की आमद बढ़ेगी। होटल एसोसिएशन मनाली के अध्यक्ष अनूप ठाकुर ने कहा रोहतांग दर्रे की बहाली के बाद मनाली में सैलानियों की संख्या बढ़ी है। उन्होंने कहा जून में कारोबार चरम पर रहने की उम्‍मीद है।

Most Popular