Thursday, June 20, 2024
Homeलाहुल-स्पीतिजनजातीय ज़िला लाहुल स्पिति एक बार फिर शीत लहर की प्रकोप

जनजातीय ज़िला लाहुल स्पिति एक बार फिर शीत लहर की प्रकोप

रेणुका गौतम
घाटी में जनजीवन अस्तव्यस्त

लाहौल -स्पीती

लाहौल -स्पीती : जनजातीय ज़िला लाहुल स्पिति में मौसम ने एक बार फिर से करवट बदल दिया है और सुबह से ही घाटी के बहुत से स्थानों पर बर्फ़बारी का दौर शुरू हो गया है । ज़िला मुख्यालय केलांग में सुबह से बर्फ के फाहे घिरने शुरू हुए वहीं चन्द्रा वैली , पट्टन वैली , तोद वैली व स्पिति के क़ाज़ा व आसपास के इलाकों में बर्फबारी से जनजीवन एक बार फिर पृरी तरह से अस्तव्यस्त हो गया है ।

इस ताज़ा बर्फबारी के कारण अब 13,500 फुट ऊंचा रोहतांग दर्रा भी बंद हो गया है और घाटी पृरी तरह से शेष विश्व से कट गया है । घाटी के अंधर भी यातायात व्यवस्था ठप हो गयी है हालांकि बीआरओ के 94 आरसीसी का कहना है कि मौसम के खुलते ही घाटी में यातायात जल्द वहाल कर दिया जाएगा व अगर कोई एमरजेंसी होती है या कोई मरीज़ घाटी में फंसता हो तो ऐसे में रोहतांग टनल से उनको आरपार किया जाएगा । ताज़ा जानकारी के मुताबिक उदयपुर में 6 इंच , शंशा 6 इंच , केलांग 5 इंच , तोद वैली आधा फुट , चन्द्रा वैली आधा फुट , कोकसर आधा फुट , रोहतांग 2 फुट तक बर्फ पड़ गयी है और अभी तक बर्फबारी के दौर घाटी में जारी है । इस समय समस्त घाटी शून्य तापमान से नीचे है और जगह जगह पेयजल के स्रोत झम चुके हैं । चन्द्रा घाटी के सूरज लाल , अनिल व देवेंद्र ने कहा कि घाटी में फिलहाल सभी संपर्क मार्ग अवरुद्ध हैं और वाहनों की कोई आवाजाही नहीं हो रही लेकिन बिजली , पानी व दूरसंचार अभी फिलहाल ठीक है ।

एसडीएम केलांग अमर नेगी का कहना है कि घाटी मे फिलहाल स्तिथि सामान्य है और जिला प्रशासन की पृरी टीम किसी भी आपातकाल से निपटने के लिए तयार है । मौसम विभाग के अनुसार 12 दिसंबर से 16 दिसंबर तक भारी बर्फबारी और बारिश की चेतावनी दी गई है जिसे जिला प्रशासन के द्वारा ऊंचाई वाले क्षेत्रों में अलर्ट भी जारी कर दिया है।

Most Popular