Tuesday, April 16, 2024
Homeक्राइममंडी के कुन्नू में चोर गिरोह ने चोरी की वारदात को दिया...

मंडी के कुन्नू में चोर गिरोह ने चोरी की वारदात को दिया अंजाम, करीब 90 हजार रुपए नकदी और 12 लाख से अधिक कीमत के जेवरातों सहित दबोचे 2 शातिर

मंडी: कुन्नू में चोर गिरोह ने चोरी की वारदात को दिया अंजाम, करीब 90 हजार रुपए नकदी और 12 लाख से अधिक कीमत के जेवरातों सहित दबोचे 2 शातिर

मंडी उपमंडल पद्धर के स्थित कुन्नू में चोर गिरोह ने दिनदिहाड़े चोरी की वारदात को अंजाम देते हुए करीब 90 हजार रुपए नकदी और 12 लाख से अधिक कीमत के जेवरातों पर हाथ साफ कर लिया. चोर मुस्तैदी से वारदात को अंजाम देकर भागने में भी कामयाब हो गए.

लेकिन घर के किसी सदस्य ने उनकी कार का नंबर पढ़ लिया. पद्धर, गवाली, उरला और घटासनी हर स्टेशन में वारदात की सूचना के साथ साथ गिरोह की गाड़ी के नंबर बारे अवगत करवाया गया. उरला में गिरोह के 2 सदस्य पब्लिक के हाथ चढ़ गए. जबकि एक सदस्य पीछे ही गाड़ी से उतर कर फरार हो गया है. जिसकी तलाश की जा रही है.

गिरोह की लाल रंग की फिएट कार नंबर एचपी 66 ए 3303 को भी पुलिस ने कब्जे में ले लिया है. गिरोह के पकड़े गए सदस्यों में मोहमद हुसैन (64) निवासी जीपीएस जानू, बसोहली वार्ड नम्बर चार कठुआ जम्मू और पन्ना लाल (37) निवासी कतरेन, जतेहर- बिहाल, कुल्लू के रूप में हुई है.

पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले स्थानीय लोगों ने गिरोह के सदस्यों की जमकर छितर परेड भी की. पुलिस मौके पर पहुंचने बाद दोनों आरोपियों को पुलिस थाना पद्धर ले गई है.

आरोपियों ने रविवार दिन को करीब ढाई बजे कुन्नू गांव के सेवानिवृत्त अध्यापक नागेंद्र कुमार के घर का ताला तोड़ सेंधमारी करते हुए करीब 80 हजार नकदी और 12 लाख से अधिक कीमत के जेवरात चुरा लिए थे. घटना के दौरान पीड़ित नागेंद्र कुमार, उनकी धर्म पत्नी सुनीता और बेटा पीयूष समीप में ही किसी समारोह में लंच करने धाम में गए हुए थे.

नागेंद्र का बेटा पीयूष जैसे ही घर आया तो चोर कमरे में वारदात को अंजाम दे रहे थे. पीयूष की गिरोह के सदस्यों के साथ झड़प भी हुई. गिरोह के एक सदस्य ने घर से बाहर निकलते ही पीयूष को कोई नुकीला हथियार दिखाकर निकल गया और डर से पीयूष अपनी जान बचाने के लिये निचे खेतों की तरफ भागा स्कूली छात्र पीयूष ने उसे पकड़ने का प्रयास किया.

चोर से साथ हुई झड़प में पीयूष को आंशिक चोट लगी है. 11वीं कक्षा के छात्र ने हौंसले की दाद देते हुए चोर का पीछा करते हुए कार के नंबर को ट्रेस किया. उसके बाद तुरंत सूचना मोबाइल से पिता नागेन्द्र को दी. पीयूष के मामा उरला निवासी अधिवक्ता राजेश चंदेल भी मोहड़धार गांव में समारोह में आए थे.

उन्होंने उरला बाजार में कार का नंबर देकर चोंरों को पकड़ने की बात कही. जिनमें दो सदस्यों को लाल रंग की कार सहित दबोचने में कामयाबी मिली है. एक सदस्य अभी तक फरार है. एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि गिरोह दिनदहाड़े कुन्नू कस्बे में वारदात को अंजाम दिया. जिनमें दो आरोपियों को पकड़ लिया गया है. जबकि एक की तलाश जारी है.

मंडी उपमंडल पद्धर के स्थित कुन्नू में चोर गिरोह ने दिनदिहाड़े चोरी की वारदात को अंजाम देते हुए करीब 90 हजार रुपए नकदी और 12 लाख से अधिक कीमत के जेवरातों पर हाथ साफ कर लिया. चोर मुस्तैदी से वारदात को अंजाम देकर भागने में भी कामयाब हो गए.

लेकिन घर के किसी सदस्य ने उनकी कार का नंबर पढ़ लिया. पद्धर, गवाली, उरला और घटासनी हर स्टेशन में वारदात की सूचना के साथ साथ गिरोह की गाड़ी के नंबर बारे अवगत करवाया गया. उरला में गिरोह के 2 सदस्य पब्लिक के हाथ चढ़ गए. जबकि एक सदस्य पीछे ही गाड़ी से उतर कर फरार हो गया है. जिसकी तलाश की जा रही है.

गिरोह की लाल रंग की फिएट कार नंबर एचपी 66 ए 3303 को भी पुलिस ने कब्जे में ले लिया है. गिरोह के पकड़े गए सदस्यों में मोहमद हुसैन (64) निवासी जीपीएस जानू, बसोहली वार्ड नम्बर चार कठुआ जम्मू और पन्ना लाल (37) निवासी कतरेन, जतेहर- बिहाल, कुल्लू के रूप में हुई है.

पुलिस के मौके पर पहुंचने से पहले स्थानीय लोगों ने गिरोह के सदस्यों की जमकर छितर परेड भी की. पुलिस मौके पर पहुंचने बाद दोनों आरोपियों को पुलिस थाना पद्धर ले गई है.

आरोपियों ने रविवार दिन को करीब ढाई बजे कुन्नू गांव के सेवानिवृत्त अध्यापक नागेंद्र कुमार के घर का ताला तोड़ सेंधमारी करते हुए करीब 80 हजार नकदी और 12 लाख से अधिक कीमत के जेवरात चुरा लिए थे. घटना के दौरान पीड़ित नागेंद्र कुमार, उनकी धर्म पत्नी सुनीता और बेटा पीयूष समीप में ही किसी समारोह में लंच करने धाम में गए हुए थे.

नागेंद्र का बेटा पीयूष जैसे ही घर आया तो चोर कमरे में वारदात को अंजाम दे रहे थे. पीयूष की गिरोह के सदस्यों के साथ झड़प भी हुई. गिरोह के एक सदस्य ने घर से बाहर निकलते ही पीयूष को कोई नुकीला हथियार दिखाकर निकल गया और डर से पीयूष अपनी जान बचाने के लिये निचे खेतों की तरफ भागा स्कूली छात्र पीयूष ने उसे पकड़ने का प्रयास किया.

चोर से साथ हुई झड़प में पीयूष को आंशिक चोट लगी है. 11वीं कक्षा के छात्र ने हौंसले की दाद देते हुए चोर का पीछा करते हुए कार के नंबर को ट्रेस किया. उसके बाद तुरंत सूचना मोबाइल से पिता नागेन्द्र को दी. पीयूष के मामा उरला निवासी अधिवक्ता राजेश चंदेल भी मोहड़धार गांव में समारोह में आए थे.

उन्होंने उरला बाजार में कार का नंबर देकर चोंरों को पकड़ने की बात कही. जिनमें दो सदस्यों को लाल रंग की कार सहित दबोचने में कामयाबी मिली है. एक सदस्य अभी तक फरार है. एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि गिरोह दिनदहाड़े कुन्नू कस्बे में वारदात को अंजाम दिया. जिनमें दो आरोपियों को पकड़ लिया गया है. जबकि एक की तलाश जारी है.

Most Popular