Saturday, July 13, 2024
Homeकांगड़ादेवभूमि फिर शर्मसार :दहेज की बलि चढ़ी विवाहिता

देवभूमि फिर शर्मसार :दहेज की बलि चढ़ी विवाहिता

काँगड़ा : हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले की देहरा के एक ग्राम पंचायत हार में 28 वर्षीय विवाहिता योगिता को दहेज के चलते ससुराल वालों ने जहर देकर जान ले लीl मायके पक्ष के लोगों ने यह आरोप लगाया कि ससुराल वालों ने उनकी बेटी को जहर खिलाकर जान ले ली l उन्होंने बताया कि हमारी बेटी की दो साल पहले लव मैरिज हुई थी l मायके वाले जब देहरा सिविल अस्पताल पहुंचे तब योगिता का शव देखकर फूट-फूटकर रोने लगे l देहरा सिविल अस्पताल में मृतक के परिजन ने प्रदर्शन किया और अस्पताल व पुलिस प्रशासन के खिलाफ मुर्दाबाद के जमकर नारे लगा l देहरा के डीएसपी के अस्पताल पहुंचाने के बाद काफी समझाने के बाद लोग शांत हुए l

पुलिस ने मृतका योगिता के पति साहिल, सास सुशीला, ननद शिखा को हिरासत में ले लिया l इनपर आईपीसी की धारा 304ए, 498ए के तहत मामला दर्ज किया l पुलिस मृतका की डेड बॉडी लेकर पुलिस टांडा मेडिकल कॉलेज पहुंच गई है l यहां उसका पोस्टमॉर्टम किया जाएगा. पुलिस ने कहा कि पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट आने के बाद आरोपियों पर आगे की कार्रवाई की जाएगी l

विवाहिता योगिता (28) के छोटे भाई शुभम पटियाल पुत्र रणवीर सिंह निवासी गांव डाकघर देहरा जिला कांगड़ा ने पुलिस को अपना बयान कलमबंद करवाया। बताया कि बड़ी बहन योगिता की शादी साहिल कश्यप पुत्र विजय कश्यप निवासी गांव हारमिटा डाकघर नैहरनपुखर तहसील देहरा जिला कांगड़ा के साथ करीब 2 साल पहले हुई थी। शादी के बाद ही इसकी बहन को इसका पति, सास, ननद व ननदोई ने शारीरिक व मानसिक तौर पर तंग करना शुरू कर दिया। 7 जून को बहन की मौत की जानकारी हमें नहीं दी गई है। योगिता को फोन पर फोन किया तो वह स्विच ऑफ आ रहा था। जब वह योगिता के घर पर पहुंचा तो देखा कि योगिता बिस्तर पर पड़ी हुई थी। जब उसने योगिता के शरीर को छुआ तो शरीर ठंडा पड़ चुका था और बाहर बरामदे में अर्थी बनाई जा रही थी। इतने में मायका पक्ष के सभी लोग इकट्ठा हो गए। योगिता का फोन को देखा तो पाया कि फोन बुरी तरह टूट चुका था। योगिता के भाई ने कहा कि सास सुशीला, पति साहिल, ननद शिखा व ननद के पति रिक्की ने कोई जहरीला इंजेक्शन देकर बहन की जान ली है। इसके बाद थाना देहरा में मामला दर्ज किया गया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल देहरा रखा गया था।


अस्पताल में मायके वालों ने की नारेबाजी

मायके पक्ष के काफी लोग सिविल अस्पताल  देहरा इकट्ठा हुए। मायके पक्ष द्वारा शव को टांडा अस्पताल ले जाने के लिए रोका गया, क्योंकि शव का पोस्टमार्टम टांडा में किया जाना था। मायका पक्ष का कहना था कि सभी आरोपियों को पहले गिरफ्तार किया जाए, तभी शव को टांडा के लिए ले जाने दिया जाएगा। मौका पर पहुंच कर डीएसपी देहरा लालमन शर्मा ने लोगों को आश्वासन दिया कि शव का टांडा में पोस्टमार्टम होने से पहले सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इस दौरान मायके पक्ष के लोगों की डी एस पी  के साथ बहस भी हुई और एएसआई सतीश कुमार के खिलाफ नारे भी लगाए।

पति ने दुबई जाने के लिए मांगे थे 6 लाख रुपए

योगिता के पिता रणवीर सिंह पटियाल व माता नरेश पटियाल ने आरोप लगाया कि योगिता के पति साहिल ने दुबई योगिता को मार डाला। डीएसपी देहरा लालमन शर्मा ने कहा कि बीते दिन देहरा पुलिस थाने में सूचना मिली कि योगिता नाम की विवाहिता  की आकस्मिक मौत हो गई है

उसके बाद पुलिस वारदात पर गई व योगिता के भाई के बयान पर मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि शव को पोस्टमार्टम के लिए टांडा मेडिकल कॉलेज, अस्पताल भेजा गया है। उन्होंने कहा कि योगिता के पति, सास व ननद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Most Popular