Thursday, May 30, 2024
Homeराजनीतिधूमल की सक्रियता से जयराम की राहें हुईं कठिन : प्रेम कौशल

धूमल की सक्रियता से जयराम की राहें हुईं कठिन : प्रेम कौशल

रजनीश शर्मा

हमीरपुर : अनुराग ठाकुर के केंद्र में मंत्री बनने से जब से पूर्व मुख्यमंत्री सक्रिय हुए हैं, जयराम ठाकुर की राहें कठिन हो गयी है।यह बात कांग्रेस प्रवक्ता प्रेम कौशल ने हमीरपुर में कही । उन्होंने कहा कि ईवीएम की सेटिंग न केवल कांग्रेस को हराने के लिए हुई बल्कि यह सेटिंग प्रेम कुमार धूमल एवं कुछ चुनिंदा भाजपा नेताओं को हराने के लिए भी की गयी।
प्रेम कौशल ने कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से शुरू हुए गृह युद्ध ने भाजपा और इसकी सरकार में व्याप्त असन्तोष एवं भ्र्ष्टाचार को जनता के सामने पूर्णतः उजागर कर दिया है।भाजपा के वरिष्ठ नेता ही सरकार के मंत्रियों के ऊपर भ्र्ष्टाचार के आरोप लगा रहे हैं और सरकारी तंत्र आरोपों की जांच करने की बजाए आरोप लगाने वालों के विरुद्ध ही कार्यवाही कर रहा है जिससे स्पष्ट होता है कि एक तो सरकार में भ्र्ष्टाचार व्याप्त है और दूसरा भाजपा के अंदर सुलग रही विद्रोह तथा असन्तोष की चिंगारी अब पूरी तरह से भड़क चुकी है।
कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता प्रेम कौशल ने कहा कि केंद्र सरकार में अनुराग ठाकुर की मंत्री के रूप में ताजपोशी के बाद पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल की सक्रियता से भी यह एहसास होता है कि अब मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की राहें कठिन होती जा रही हैं।जय राम ठाकुर लगभग 2 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण करने के बाबजूद अफसरशाही को नियंत्रित कर एक कुशल एवं सुदृढ़ प्रशाशक के रूप में खुद को स्थापित नहीं कर पाए हैं तथा वर्तमान परिस्थितियों के चलते उनकी परेशानियां और बढ़ने बाली हैं।
प्रेम कौशल के अनुसार सरकार द्वारा आयोजित जनमंच कार्यक्रम पूर्णतः रंगमंच का रूप ले चुके हैं जिनमें कर्मचारियों और अधिकारियों को मंत्री सार्वजनिक रूप से अपमानित कर रहे हैं,इन कार्यक्रमों के माध्यम से न्याय ना मिल पाने के चलते जनता हताश है और सरकार ने पूर्व से ही चल रहे प्रशासन जनता के द्वार कार्यक्रम का नाम बदल कर मंत्रियों को इसमें सम्मलित कर एक राजनीतिक ड्रामे का रूप दे दिया जिसमें सरकारी धन का जमकर दुरुपयोग किया जा रहा है।

Most Popular