Saturday, March 2, 2024
Homeलाहुल-स्पीतिनशे के खिलाफ जन आंदोलन में निभाए भूमिका

नशे के खिलाफ जन आंदोलन में निभाए भूमिका

लाहौल स्पीति : नशे के खिलाफ चल रहे जागरूकता अभियान के तहत लाहौल स्पीति के काजा उप मंडल में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि एसडीएम काजा जीवन सिंह नेगी मौजूद रहे । कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के प्रतिनिधियों ने नशे के बढ़ते प्रचलन और दुष्प्रभाव को लेकर विस्तृत जानकारी रखी।

कार्यक्रम में बीएमओ डॉ तेंजिन नोरबू ने कहा कि आज नशे का प्रभाव स्कूली बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक पहुंच चुका है । नशे के कारण कैंसर तक बीमारियां होती है । लेकिन अब नशे की ओवरडोज के कारण मौत भी हो रही है । ऐसे क ई मामले हिमाचल में सामने आ चुके हैं जिनमें में नशे की ओवरडोज के कारण के युवाओं को जिंदगी हाथ धोना पड़ा है । आज सिंथेटिक ड्रग काफी बढ़ती जा रही है । नशे के खिलाफ लड़ने के लिए ह म सब को आगे आना होगा तथा एक सजग नागरिक के तौर पर जहां भी नशे के व्यापार में लिप्त लोग हैं । उनके खिलाफ मोर्चा खोलने से कतई परहेज नहीं करना होगा। यही नहीं बच्चे के व्यवहार को देखकर आसानी से पता लगाया जा सकता है कि वह नशे की गिरफ्त में जा रहा है या नहीं । अभिभावकों की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है।

कार्यक्रम में डीएसपी सुशांत शर्मा ने कहा पिछले एक दशक में हिमाचल का ग्राफ नशे के मामलों में काफी ऊपर बढ़ गया है। पड़ोसी राज्य से आसानी से नशे की खेप नशे का सेवन करने वाले लेकर आ रहे हैं। असल में जो नशे में पेडलर है वही नशे के सबसे ज्यादा आदि भी है। अब तो हिमाचल में नशे के खिलाफ भी काफी सख्त कानून हो गया है । मगर नशे के कारोबार को जड़ से खत्म करने के लिए हमें निरंतर मिलकर प्रयास करना होगा। नशे के बारे में कोई भी सूचना पुलिस को दी जाती है तो पुलिस सूचना देने वाले व्यक्ति का नाम और उसकी पहचान पूरी तरह गोपनीय रखती है। ताकि सूचना देने वाले को किसी भी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े । लेकिन अभी भी लोग पुलिस के पास सूचना देने से कतराते हैं । जब तक पुलिस के पास सूचना नहीं होगी मामलों को सुलझाने में पता नहीं आती है । क्योंकि आदमी अपने साथियों का नाम बड़ा कम उगलता है । इसी कार्यक्रम में अंतरराष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस के बारे में भी जानकारी दी कि अगर महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा होती है तो उसकी शिकायत तुरंत पुलिस में करें वहीं। कार्यक्रम में एसडीम काजा जीवन सिंह नेगी ने संबोधित करते हुए कहा कि स्पीति वैली पर्यटन की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण स्थान है । यहां लाखों की तादाद में तिलक खालसा घूमने आते हैं और इसी के माध्यम से कई बार नशे की गतिविधियां करते हुए पाए जाते हैं । ऐसे में हमारा और आपका कर्तव्य बनता है कि ऐसा करने से रोके और साथ ही साथ अपने आसपास के वातावरण को नशा मुक्त बनाने के लिए एक संकल्प अपने जीवन में लेकर उस पर कार्य करें जब स्वस्थ समाज होगा । तभी हमारा समाज सही दिशा में विकसित हो पाएगा।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने फिट इंडिया मूवमेंट इसी वजह से चलाया है। ताकि समाज नशे की गरीब बना रहे बल्कि स्वस्थ समाज की कल्पना को परिपूर्ण करें कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे विभिन्न विभागों के विशेष आभार जताया साथ ही साथ 15 दिसंबर तक चलने वाले नशे के खिलाफ को सफल बनाने का आह्वान भी किया

Most Popular