Friday, July 19, 2024
Homeशिमलाigmc में रेजिडेंट डॉक्टर ने किया काम ठप्प,पूरे दिन की हड़ताल पर...

igmc में रेजिडेंट डॉक्टर ने किया काम ठप्प,पूरे दिन की हड़ताल पर रहेंगे डॉक्टर

शिमला:नीट-2021 पीजी काउंसलिंग  में देरी और गैर इमरजेंसी ड्यूटी  काे वापस लेने के लिए देश भर में  रेजिडेंट डॉक्टर हड़ताल पर है। प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल igmc में भी दो दिन से दो घण्टे की हड़ताल कर विरोध जता रहे थे वही  बुधवार को   रेजिडेंट डॉक्टर  काम ठप्प कर  पूरे दिन की हड़ताल पर चले गए है और igmc के बाहर मौन प्रदर्शन किया और नीट 2021 पीजी काउंसलिंग जल्द करवाने की मांग।   वही हड़ताल के चलते वार्डों में न तो सुबह मरीजों की जांच को लेकर डॉक्टर  राउंड पर पहुचे जिससे  लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। हालांकि एमरजेंसी सेवाएं जारी रखी गई। 

आईजीएमसी रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन IGMC महासचिव अक्षित पूरी  ने कहा कि दो दिन से  पीजी  काउंसलिंग को लेकर दो दिन से फो घण्टे की हड़ताल चल रही थी और आज पूरा दिन की हड़ताल पर रहने का फैसला लिया गया है और इस दौरान ओपीडी ओर ओटी में कोई सेवाएं नही दी जाएगी केवल एमरजेंसी सेवाएं दी जा रही है।   उन्हाेंने कहा कि नीट पीजी परीक्षा जनवरी में होती है ओर ये सिंतम्बर में करवाया गया  लेकिन अभी तक काउंसलिंग नही करवाई गई। रेजिडेंट डॉक्टर मानसिक और शारीरिक ताैर पर बोझ तले दबे हुए हैं और कुछ घंटें ही आराम कर पाते हैं, जबकि उन्हें कई-कई घंटे ड्यूटी करनी पड़ रही है. उन्हाेंने कहा कि पीजी काउंसलिंग प्रक्रिया के संबंध में फैसले में चल रही देरी के कारण भी डाॅक्टराें काे भारी परेशानियाें का सामान करना पड़ रहा है 

पहले ही कोरोना संक्रमण चल रहा है और ओमिक्रोम वोरिएंट ने भी दस्तक दे दी है लेकिन अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी है  इसके अलावा प्रदेश सरकार ने कोविड फंड जारी करने की मांग की थी जोकि अभी तक नही मिल पाया है। सरकार ने डॉक्टरों को मार्च में ये फंड जारी करने का वादा किया था लेकिन इसको लेकर कोई बात नही की जा रही है। 

Most Popular