Saturday, March 2, 2024
Homehimachalकुनिहार क्षेत्र में स्थान उपलब्ध होने पर निर्मित होगा आधुनिक सुविधा युक्त...

कुनिहार क्षेत्र में स्थान उपलब्ध होने पर निर्मित होगा आधुनिक सुविधा युक्त अस्पताल – संजय अवस्थी


ग्राम पंचायत हाटकोट में ‘सरकार गांव के द्वार’ कार्यक्रम आयोजित

मुख्य संसदीय सचिव (लोक निर्माण, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग) संजय अवस्थी ने कहा कि सोलन ज़िला के कुनिहार क्षेत्र में समुचित स्थान उपलब्ध होने पर आधुनिक सुविधा युक्त अस्पताल निर्माण किया जाएगा। इस अस्पताल के लिए भूमि उपलब्ध होने पर समुचित धनराशि प्रदान की जाएगी। संजय अवस्थी आज अर्की विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत हाटकोट में आयोजित ‘सरकार गांव के द्वार’ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।
संजय अवस्थी ने कहा कि वर्तमान में विभिन्न कारणों से कुनिहार स्थित अस्पताल के विस्तार की सम्भावना न्यून हैं। लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं करवाने के लिए आवश्यक है कि कुनिहार क्षेत्र में आधुनिक सुविधा युक्त अस्पताल स्थापित किया जाए। उन्होंने ग्राम पंचायत हाटकोट, ग्राम पंचायत कोठी और ग्राम पंचायत कुनिहार के प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि इस क्षेत्र में अस्पताल के निर्माण के लिए भूमि उपलब्ध करवाएं। उन्होंने कहा कि कुनिहार स्थित नागरिक अस्पताल में शीघ्र ही एम.डी मेडिसन विशेषज्ञ की तैनाती की जाएगी।
मुख्य संसदीय सचिव ने कहा कि प्रदेश में त्रि-स्तरीय स्वास्थ्य देखभाल अधोसंरचना विकसित करने पर 1620 करोड़ रुपए व्यय करेगी। उन्होंने कहा कि चिकित्सा महाविद्यालयों के महत्वपूर्ण विभागों में चरणबद्ध तरीके से रोबोटिक्स शल्य चिकित्सा आरम्भ करने पर 100 करोड़ रुपए व्यय होंगे।  
संजय अवस्थी ने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू प्रदेश के प्रत्येक जन को आवश्यक सुविधाएं प्रदान करने और सभी को समयबद्ध न्याय दिलवाने के संकल्प के साथ कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार के लिए सत्ता सेवा का माध्यम है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने अपनी 10 गारंटियों में से एन.पी.एस कर्मियों को ओ.पी.एस प्रदान करने, सभी सरकारी विद्यालयों में पहली कक्षा से अंग्रेजी मीडियम आरम्भ करने और 680 करोड़ रुपए की राजीव गांधी स्वरोज़गार स्टार्ट-अप योजना आरम्भ कर तीन गारंटियों पहले ही वर्ष में पूर्ण कर दी हैं।
उन्होंने युवाओं से आग्रह किया कि 680 करोड़ रुपए की राजीव गांधी स्वरोज़गार स्टार्ट-अप योजना के तहत ई-टेक्सी के माध्यम से स्वरोज़गार अपनाएं। उन्होंने कहा कि इस योजना के दूसरे चरण में युवाओं को अपनी भूमि पर 100, 200 व 500 किलोवाट का सौर ऊर्जा केन्द्र स्थापित करने के लिए संयंत्र संस्थापकों को आगामी 25 वर्षों तक प्रतिमाह क्रमशः 20 हजार रुपए, 40 हजार रुपए तथा एक लाख रुपए प्रदान किए जाएंगे।
संजय अवस्थी ने कहा कि ‘सरकार गांव के द्वार’ कार्यक्रम में समस्याओं के निपटारे के साथ-साथ प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी भी प्रदान की जा रही है। राज्य सरकार की यह योजनाएं ग्रामीण क्षेत्रों की आर्थिकी को सुदृढ़ करने व जन-जन को स्वावलम्बी बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण हैं।
मुख्य संसदीय सचिव ने कहा कि अर्की विधानसभा क्षेत्र में विकास की अनेक योजनाएं आरम्भ की गई हैं। उन्होंने कहा कि पिपलूघाट के समीप सवावा गांव से बाड़ीधार तक रोप-वे एवं केबल कार की स्थापना पर 150 करोड़ रुपए व्यय होंगे। यह परियोजना रोज़गार एवं स्वरोज़गार के लिए मील का पत्थर सिद्ध होगी और अर्की विधानसभा क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करेगी।
उन्होंने कहा कि जलाणा में 50 बीघा भूमि पर निर्मित होने वाला राजीव गांधी डे-बोर्डिंग स्कूल गुणावत्तायुक्त शिक्षा का श्रेष्ठ केन्द्र बनेगा। राजकीय महाविद्यालय अर्की में एम.ए. अंग्रेजी एवं इतिहास की कक्षाएं आरम्भ होने से विशेष रूप से लड़कियां लाभान्वित होंगी।
उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि विकास के लिए एकजुट होकर कार्य करें।
खण्ड कांग्रेस अर्की के अध्यक्ष सतीश कश्यप, नगर पंचायत अर्की के अध्यक्ष अनुज गुप्ता, ज़िला कांग्रेस महासचिव राजेन्द्र रावत, ज़िला कांग्रेस अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सी.डी. बसंल, बीडीसी अर्की की अध्यक्ष सोमा कौंडल, ग्राम पंचायत हाटकोट के प्रधान जगदीश अत्री, क्षेत्र के विभिन्न ग्राम पंचायतों के प्रधान, उप प्रधान, अन्य प्रतिनिधि, खण्ड कांग्रेस अर्की के पूर्व अध्यक्ष रमेश ठाकुर, नगर पंचायत अर्की की पूर्व अध्यक्ष सीमा शर्मा, उपायुक्त सोलन मनमोहन शर्मा, पुलिस अधीक्षक सोलन गौरव सिंह, उपमण्डलाधिकारी अर्की यादविंदर पाल, पुलिस उप अधीक्षक दाड़लाघाट संदीप शर्मा सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी व ग्रामीण कार्यक्रम में उपस्थित थे।  

Most Popular