Saturday, March 2, 2024
Homeशिमलामुख्यमंत्री ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड जल्द होगा मंत्रिमंडल में विस्तार

मुख्यमंत्री ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड जल्द होगा मंत्रिमंडल में विस्तार

मु

ख्यमंत्री ने रविवार को अपने दो साल के कार्यकाल का रिपोर्ट कार्ड पेश किया। उन्होंने कहा कि बिना छुट्टी लिए मेरा एक-एक पल जनता के लिए समर्पित है। इसके चलते उन्होंने नया स्लोगन देते हुए कहा कि ‘दो साल विश्वास के, प्रगति और विकास के’। जाहिर है कि एक साल पूरा होने पर जयराम सरकार का ‘एक साल विकास का-ईमानदार प्रयास का’ नारा था। अब 27 दिसंबर को भाजपा सरकार अपने कार्यकाल के दो साल का जश्न रिज पर मनाने जा रही है। इसके चलते रविवार को मुख्यमंत्री ने प्रेस कान्फ्रेंस बुलाकर अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी किया। इसमें मुख्यमंत्री ने 35 नई योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि हमने सामाजिक क्षेत्र का विशेष ध्यान रखा है। सरकार ने सबसे पहले वरिष्ठ नागरिकों की सामाजिक सुरक्षा पेंशन पर अहम फैसला लिया था।

इसके बाद जनमंच से लेकर मुख्यमंत्री हेल्पलाइन तक कई ऐसी योजनाएं शुरू की गई हैं, जिससे प्रदेश सीधा सरकार के करीब आया है। इन्वेस्टर मीट का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी सरकार ने अब तक ऐसे गंभीर प्रयास नहीं किए थे। हिमाचल में निवेश को धरातल पर उतारने के लिए कई नई पॉलिसियां लाई गई हैं। इस कारण 93 हजार करोड़ के एमओयू हस्ताक्षर होने के डेढ़ समय के भीतर दस हजार से ज्यादा की ग्राउंड बे्रकिंग हो रही है। सीएम ने क्रमवार अपनी योजनाओं को गिनाते हुए कहा कि पर्यटन, कृषि, शिक्षा और कनेक्टिविटी पर फोकस किया गया है।

दो साल के कार्यकाल में लोकसभा से लेकर विधानसभा के उपचुनावों सहित सभी इलेक्शन जिताकर जनता ने भी मेरिट में पास किया है। यही कारण है कि हमने विश्वास जीतकर विकास के दो साल प्रगति की ओर समर्पित किए हैं। सीएम ने विपक्ष को नसीहत देते हुए इशारे ही इशारों में आइना भी दिखाया। उनका कहना है कि विपक्ष सरकार की कमजोरियां दिखाकर सुझाव दे, तो बेहतर होगा। यहां सिर्फ सियासी रोटियां सेंकने के लिए मुद्दे ढूंढे जाते हैं। यह पहला मौका था कि मुख्यमंत्री ने डेढ़ घंटे तक की प्रेस वार्ता का आयोजन कर अपनी सरकार की उपलब्धियों को मीडिया से सांझा किया है।

इसमें सीएम ने जनमंच को हिमाचल की अनूठी पहल बताते हुए कहा कि इस योजना को मोदी सरकार ने भी सराहा है। हिमकेयर और गृहिणी सुविधा योजना को हिमाचल के लोगों के लिए वरदान बताते हुए सीएम ने कहा कि इससे सरकार ने हर घर को छूने का प्रयास किया है। प्रदेश की जयराम सरकार अपने दो साला जश्न में नए स्लोगन के साथ जनता के सामने आएगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दो साल में हिमाचल के विकास के लिए किए गए कार्यों को गिनाया और बताया कि ऐसी 35 नई योजनाएं शुरू की गई हैं, जिनके माध्यम से सरकार जनता के सपनों पर खरी उतरी है।

यही वजह रही कि लोकसभा चुनाव में भाजपा ने रिकार्ड मत लेकर यहां जीत हासिल की, वहीं विधानसभा का उपचुनाव भी आसानी से जीता। सीएम ने कहा कि उनकी सरकार की बातें कागजों तक सीमित नहीं रहीं, बल्कि जमीन पर दिखी हैं। दूसरे साल की चुनावी परीक्षाओं में सरकार जीती और बिना छुट्टी लिए अपना पूरा समय समर्पित किया।

जनमंच को बताया सबसे महत्त्वपूर्ण उपलब्धि

जयराम ठाकुर ने जनमंच को अपनी सरकार की सबसे महत्त्वपूर्ण उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि जनता की समस्याओं को सुलझाने का इससे बेहतर मंच नहीं हो सकता था, जिस पर दूसरे राज्य भी चलने लगे हैं। 43 हजार जन शिकायतें प्राप्त हुईं, जिनमें से 96 फीसदी का निपटारा मौके पर कर दिया गया।

Most Popular