Tuesday, October 19, 2021
Homeशिमलालखीमपुर में किसानों की गाड़ी से कुचल कर हत्या पर कांग्रेस का...

लखीमपुर में किसानों की गाड़ी से कुचल कर हत्या पर कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन

शिमला: उत्तर प्रदेश लखीमपुर में किसानों की गाड़ी से कुचल कर हत्या व अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव उत्तर प्रदेश मामलों की प्रभारी प्रियंका वाड्रा की गिरफ्तारी के विरोध में आज प्रदेश के सभी जिलों में कांग्रेस ने विरोध प्रदर्शन किया।
शिमला में जिला कांग्रेस कमेटी शहरी जितेंद्र चौधरी की अध्यक्षता में उपायुक्त कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया गया इसमें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर व महिला कांग्रेस अध्यक्ष जैनब चंदेल ने भी विशेष तौर पर भाग लिया।
कुलदीप सिंह राठौर ने इस दौरान अपने सम्बोधन में उत्तर प्रदेश में केद्रीय मंत्री के बेटे द्वारा चार किसानों को गाड़ी से कुचल कर मारने का कड़ा रोष प्रकट करते हुए कहा कि भाजपा शासित राज्य उत्तर प्रदेश में जंगल राज के चलते सत्ता से जुड़े लोग सरेआम गम्भीर अपराध कर रहें है।उन्होंने कहा कि लखीमपुर खीरी की घटना से साफ है की उतर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है।
राठौर ने उत्तर प्रदेश में प्रियंका वाड्रा की गिरफ्तारी को पूरी तरह अलोकतांत्रिक बताते हुए कहा कि भाजपा देश मे लोकतंत्र का गला घोंट रही है।उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में विपक्षी नेताओं को जाने से रोकने से साफ है कि भाजपा अपने गुनाहों को छुपाने का पूरा प्रयास कर रही है।
राठौर ने किसानों की इस हत्या के लिये सीधे तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ठहराया।उन्होंने कहा कि इस हत्याकांड में शामिल मंत्री के बेटे ने कुछ दिन पूर्व इस आंदोलन को कुचलने की सार्वजनिक धमकी दी थी,पर उस समय प्रशासन ने उसके खिलाफ कोई भी कदम नही उठाया।उन्होंने कहा कि अगर समय रहते प्रशासन ने कोई कार्यवाही की होती तो इन किसानों की हत्या न होती।उन्होंने आरोप लगाया कि यह हत्याकांड पूर्व सुनियोजित था।
राठौर ने कहा कि देश मे तीन काले कृषि कानूनों को लेकर किसानों का यह आंदोलन एक साल का होने जा रहा है।उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार इसे दबाने का पूरा प्रयास करती रही है।उन्होंने कहा कि किसान टस से मस नही हुए है और वह इन तीनों काले कानूनों को रद्द करने की मांग पर अडिग है।उन्होंने कहा कि कांग्रेस किसानों के साथ किसी भी प्रकार का अन्याय नही होने देगी।
राठौर ने कहा कि भाजपा हमेशा ही किसान व बागवान विरोधी रही है।उन्होंने कहा कि प्रदेश में भी बागवानो पर तत्कालीन भाजपा सरकार ने गोलियां बरसाई थी,जिसमें हमारे तीन बागवान शहीद हुए थे।उन्होंने कहा कि भाजपा किसानों व बागवानो की गुनहगार है इसे कभी माफ नही किया जा सकता।
इससे पूर्व प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष जैनब चंदेल व जिला कांग्रेस कमेटी शहरी के अध्यक्ष जितेंद्र चौधरी ने भी किसानों की हत्या पर कड़ा रोष व्यक्त करते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग सरकार से की।
इस विरोध प्रदर्शन में पूर्व विधायक आदर्श सूद,केहर सिंह खाची,हरिकृष्ण हिमराल,अमित नंदा, बलदेब ठाकुर,प्रदीप वर्मा,किरण धान्टा,शशि बहल,रामकृष्ण शांडिल, वनीता वर्मा,आनंद कौशल,आकाश सैनी, अमित,राहुल मेहरा,बलदेब पुरी,श्रीकांत शर्मा,राजेश वर्मा,मुकल गुप्ता,भूपेंद्र कवंर,अतर सिंह,किरण शर्मा,मीरा शर्मा के अतिरिक्त सेवादल, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, एनएसयूआई के अनेक पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।

Most Popular

Recent Comments